Monday, June 14, 2021

WTC Final: विराट ने दिलाई पिछली सीरीज की याद, बताया कम प्रैक्टिस के बावजूद कैसे बनेगी बात

- Advertisement -


मुंबई
भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल से पहले इंग्लैंड में अभ्यास की कमी चिंता की बात नहीं है। डब्ल्यूटीसी फाइनल मुकाबले से पहले जहां भारतीय टीम को अभ्यास करने के ज्यादा मौके नहीं मिलेंगे तो वहीं न्यूजीलैंड की टीम फाइनल से पहले इंग्लैंड के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेलेगी।

Ravi Shastri On WTC Final: टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री WTC के प्रारूप से नहीं हैं खुश? इंग्लैंड रवाना होने से पहले दिया बड़ा बयान
कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने पर न्यूजीलैंड को फायदे की बात से भी इंकार किया। भारत और न्यूजीलैंड के बीच 18 से 22 जून तक डब्ल्यूटीसी फाइनल मुकाबला खेला जाना है। भारतीय टीम गुरुवार तड़के इंग्लैंड के लिए रवाना होगी जहां उसे डब्ल्यूटीसी फाइनल के अलावा इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज भी खेलनी है।

WTC FINAL: इंग्लैंड रवाना होने से पहले विराट ने भरी हुंकार, कहा- कोई दबाव नहीं
इंग्लैंड रवाना होने से पहले कोहली ने प्रेस वार्ता में कहा, ‘इससे पहले भी हम कई बार मुकाबले के तीन दिन पहले पहुंचे हैं और हमने सीरीज में अच्छा किया है। यह बस दिमाग की बात है। यह पहली बार नहीं है जब हम इंग्लैंड में खेल रहे हैं, हम वहां के वातावरण को अच्छे से जानते हैं। हमें चार अभ्यास सत्र से भी कोई दिक्कत नहीं है।’

उन्होंने कहा, ‘अगर आप वातावरण में ढल भी जाएं और सही दिमाग से फील्ड तय नहीं कर पाए तो पहली गेंद से दिक्कत होगी और विकेट लेना कठिन हो जाएगा। हमें भरोसा है कि हम एक टीम के रूप में अच्छा करेंगे। हम सभी इंग्लैंड में इससे पहले भी खेल चुके हैं और सभी को यहां खेलने का अनुभव है।’

Monty Panesar On IND vs ENG Series: मोंटी पनेसर ने दिया जो रूट का दिल तोड़ने वाला बयान, बोले- इंग्लैंड को बड़े अंतर से हराएगा भारत
यह पूछे जाने पर कि क्या वातावरण न्यूजीलैंड के लिए फायदेमंद होगा। इस पर कोहली ने कहा, ‘न्यूजीलैंड के लिए स्थितियां उतनी ही प्रबल हैं जितनी हमारे लिए हैं। ऑस्ट्रेलिया का वातावरण ऑस्ट्रेलिया को फायदा देता है लेकिन हमने उन्हें वहां दो बार हराया। अगर आप इस सोच के साथ फ्लाइट पकड़ रहे हैं कि न्यूजीलैंड को फायदा होगा तो फिर वहां जाने का कोई फायदा नहीं है। हम यह सोच कर फ्लाइट पकड़ रहे हैं कि दोनों टीमें बराबरी पर है और जो टीम हर सत्र में बेहतर करेगी वो इस मुकाबले को जीतेगी।’



Source link

इसे भी पढ़ें

जोकोविच जैसा कोई नहीं: हर ग्रैंडस्लैम दो बार जीतने वाले ओपन ऐरा के पहले खिलाड़ी

हाइलाइट्स:नोवाक जोकोविच फ्रेंच ओपन के नए चैंपियन4 घंटे चले फाइनल में सितसिपास को हराया52 साल में चारों ग्रैंड स्लैम दो बार जीतने वाले...
- Advertisement -

Latest Articles

जोकोविच जैसा कोई नहीं: हर ग्रैंडस्लैम दो बार जीतने वाले ओपन ऐरा के पहले खिलाड़ी

हाइलाइट्स:नोवाक जोकोविच फ्रेंच ओपन के नए चैंपियन4 घंटे चले फाइनल में सितसिपास को हराया52 साल में चारों ग्रैंड स्लैम दो बार जीतने वाले...

भारत ने पिछले 3 साल में बांग्लादेश को को सौंपे 577 घुसपैठिए , इस साल अब तक 100 को वापस भेजा गया

नई दिल्लीभारत ने साल 2018 से अपने पड़ोसी देश बांग्लादेश को अधिकतम 577 घुसपैठिए सौंपे हैं, जो दोनों देशों के बीच आपसी सहयोग...