Friday, May 14, 2021

ऑक्सीजन लेवल गिर रहा है तो प्रोनिंग से मिल सकता है आराम

- Advertisement -


ऑक्सीजन लेवल गिर रहा है तो प्रोनिंग से मिल सकता है आराम

कोरोना महामारी के दौर में ऑक्सीजन लेवल गिरने के बाद व्यक्ति गंभीर स्थिति में जाने लगता है। इस स्थिति को कंट्रोल करना बहुत जरूरी होता है। क्योंकि वर्तमान में हालात बद से बदतर नजर आ रहे हैं। ऐसे में अगर किसी व्यक्ति का ऑक्सीजन लेवल गिर रहा है। तो वह समय रहते प्रोनिंग प्रक्रिया भी अपना सकता है। इससे काफी फायदा मिलेगा। लेकिन मेडिकल सेवा भी लेते रहे।

आपको बता दें कि प्रोनिंग प्रक्रिया से फेफड़ों को मजबूत किया जा सकता है। इसके तहत पेट के बल लेटना और सिर नीचे की ओर झुकाना है। बताया जाता है कि अमेरिका में प्रोनिंग की प्रक्रिया लोग सालों से कर रहे हैं और कुछ लोगों ने इसे अपने जीवन का हिस्सा भी बनाया हुआ है। लेकिन कोरोना काल में अब यह सभी देशों में आजमाई जा रही है। क्योंकि यह बहुत आसान भी है।

जानकारी के अनुसार अगर आप कोरोना संक्रमित हो गए हैं और होम क्वॉरेंटाइन किया है। या फिर आपको एडमिट करना है, लेकिन जब तक ऑक्सीजन मिलना शुरू नहीं हो, तब तक आप प्रोनिंग का सहारा ले सकते है। आपका अक्सीजन लेवल 94% के नीचे आ रहा है।तब आपको मेडिकल सेवा मिले इससे पहले आप इस प्रक्रिया को कर सकते हैं।

इसके लिए आपको पेट के बल लेटना होता है। इस प्रक्रिया के लिए आप घर में मौजूद तीन तकियों का इस्तेमाल करें। इस दौरान यह सुनिश्चित करना है कि हम भले ही पेट के बल लेटे हैं लेकिन हमारा पेट दबना नहीं चाहिए। इस प्रकार आपको एक तकिया अपर चेस्ट के नीचे रखना है। दूसरा तकिया आपको हिप बोन के नीचे रखना है। यहां 2 तकिये भी लगा सकते है। इससे आपका पेट बिस्तर से दबेगा नहीं। और तीसरा तकिया पैरों के नीचे होना चाहिए। अगर आप ऐसा करते हैं तो बहुत जल्दी इंप्रूवमेंट आएगा। इस पोजीशन में आप अपने आपको कंफर्टेबल करते हुए करीब आधे से 1 घंटे लेटने पर आपको काफी आराम होगा। इसी के साथ आप दाएं और बाएं दोनों करवट पर कुछ कुछ देर लेट सकते हैं। इससे आपको काफी आराम मिलेगा। इससे आपकी हालत नहीं बिगड़ेगी और वेंटिलेटर की भी जरूरत नहीं पड़ेगी।

प्रोनिंग की प्रक्रिया गर्भवती महिलाएं, जिनका पेट बहुत बढ़ा है वह, जिन्हें स्पाइन की प्रॉब्लम है वह नहीं करें खाना खाने के तुरंत बाद भी यह प्रक्रिया नहीं करें।

यह प्रक्रिया बहुत आसान है और घर में की जा सकती है। लेकिन आप इस बात का ध्यान रखें कि इस प्रक्रिया पर निर्भर नहीं रहे। आपकी स्थिति में थोड़ी भी गड़बड़ है। तो आप चिकित्सक को दिखाएं और अस्पताल में पहुंचकर उपचार ले, ताकि आप स्वस्थ हो सके।





Source link

इसे भी पढ़ें

Eid Mubarak 2021: ईद की मुबारकबाद देकर बोले पीएम मोदी, कोरोना से मुक्ति मिल जाए यही है दुआ

हाइलाइट्स:कोरोना वायरस महामारी के चलते फीकी हुई ईद की रौनकराष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर कहा, 'ईद मुबारक'पीएम मोदी ने भी किया ट्वीट,...

इजरायल का चौतरफा हमला, गाजा सीमा पर डटे हजारों सैनिक, लड़ाकू विमानों ने बरपाया कहर

हाइलाइट्स: हमास के खिलाफ इजरायली सेना ने चौतरफा हमले की तैयारी शुरू कर दी हैइजरायल के टैंक और हजारों सैनिक शुक्रवार को गाजा...
- Advertisement -

Latest Articles

Eid Mubarak 2021: ईद की मुबारकबाद देकर बोले पीएम मोदी, कोरोना से मुक्ति मिल जाए यही है दुआ

हाइलाइट्स:कोरोना वायरस महामारी के चलते फीकी हुई ईद की रौनकराष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर कहा, 'ईद मुबारक'पीएम मोदी ने भी किया ट्वीट,...

इजरायल का चौतरफा हमला, गाजा सीमा पर डटे हजारों सैनिक, लड़ाकू विमानों ने बरपाया कहर

हाइलाइट्स: हमास के खिलाफ इजरायली सेना ने चौतरफा हमले की तैयारी शुरू कर दी हैइजरायल के टैंक और हजारों सैनिक शुक्रवार को गाजा...