Wednesday, June 16, 2021

World No Tobacco Day 2021: तंबाकू सेवन करने वालों में कोरोना वायरस का खतरा 50 प्रतिशत तक ज्यादा

- Advertisement -


World No Tobacco Day 2021: आज विश्व तंबाकू निषेध दिवस है। विश्व तंबाकू निषेध दिवस 31 मई को विश्व स्वास्थ्य संगठन की वर्षगांठ पर मनाया जाता है। इस समय यूथ को तंबाकू एवं निकोटीन से बचाया जाना जरुरी है। देश में लगभग 30 करोड़ लोग तंबाकू का सेवन करते हैं।

World No Tobacco Day 2021: आज विश्व तंबाकू निषेध दिवस है। दुनिया भर में तंबाकू सेवन करने वाले लाखों लोगों की विभिन्न बीमारियों चलते मौत हो हो जाती है। कोरोना संक्रमण के इस भयावह दौर में तंबाकू सेवन वाले लोगों को सामान्य व्यक्तियों के मुकाबले 50 प्रतिशत अधिक खतरा रहता है। तंबाकू के सेवन से व्यक्ति का श्वसन तंत्र और फेफडें खराब हो जाते हैं और कोरोना वायरस का पहला अटैक शरीर में इन्हीं अंगों पर होता है। अगर कोविड से होने वाली मौतों पर नजर डालें तो उन्हीं मरीजों की मौत का सबसे अधिक खतरा है जिनके फेफड़ें बीमारियों से ग्रसित है ।

Read More: नाश्ते में इन 5 चीजों के सेवन में जरूर बरतें सावधानी, नहीं तो उठानी पड़ सकती है बहुत बड़ी हानि

एक रिपोर्ट के मुताबिक देश में 15 वर्ष से अधिक आयु के करीब 30 करोड़ लोग तंबाकू का सेवन करते हैं। इनमें से लगभग 20 करोड़ लोग तंबाकू को गुटखा, खैनी, पान मसाला या पान के रूप में सीधे अपने मुंह में रख लेते हैं, जबकि दस करोड़ लोग ऐसे हैं जो सिगरेट, हुक्का या फिर सिगार में तंबाकू भरकर कश लगाते हैं और इसका धुआं अपने फेफड़ों में भर लेते हैं। जो लोग चबाने वाले तंबाकू, गुटका आदि का सेवन करते हैं उनमें मुंह के कैंसर का खतरा सबसे अधिक होता है।

Read More: बच्चों के लिए पिने दूध में गाय, भैंस और बकरी में से कौनसा है सर्वश्रेष्ठ, जानिए यहां

चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार, कोविड-19 संक्रमण का असर तंबाकू का सेवन करने वाले व्यक्तियों पर ज्यादा हो रहा है। धूम्रपान करने वाले व्यक्ति के लंग्स की कोशिकाओं में कोरोना का संक्रमण स्वस्थ व्यक्ति की तुलना में अधिक होने की संभावना होती हैं। धूम्रपान शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को कम करता है, जिससे कोरोना संक्रमण की संभावना बनी रहती है।

विश्व तंबाकू निषेध दिवस 31 मई को विश्व स्वास्थ्य संगठन की वर्षगांठ पर मनाया जाता है। इस समय यूथ को तंबाकू एवं निकोटीन से बचाया जाना जरुरी है। देश में लगभग 30 करोड़ लोग तंबाकू का सेवन करते हैं। महिलाओं की अपेक्षा पुरुष कम उम्र में तंबाकू का सेवन शुरू करते हैं, जिसकी औसत उम्र तंबाकू शुरू करने की लगभग 15 वर्ष हैं। तंबाकू हृदय व सांस के अंग के रोगों का खतरा चार गुना ज्यादा कर देता है। स्ट्रोक का खतरा दो गुना अधिक कर देता है।

Read More: एम्स ने ब्लैक फंगस से बचाव के लिए जारी की गाइडलाइन्स, यहां पढ़ें

तंबाकू की वजह से लगभग 25 तरह की बीमारी व 40 तरह के कैंसर हो सकते हैं। इसकी वजह से दातों का सड़ना, मसूड़ों का रोग, मुंह से बदबू होना, दात के बदरंग होना भी होता है। नियमित रूप से तंबाकू सेवन करने से सांस का फूलना, टीबी, माइग्रेन, सिरदर्द, असमय बालों का झड़ना व सफेद होना, आंखों में मोतियाबिंद की परेशानी, हृदय की बीमारी व हार्ट अटैक, पेट में फोड़ा, खून की बीमारी पुरषों में नपुंसकता आदि की बीमारी भी हो सकती है।

Web Title: World No Tobacco Day 2021: Tobacco users have up to 50 percent higher risk of corona virus





Source link

इसे भी पढ़ें

हमास के ‘कॉन्‍डम बम’ हमले से भड़की इजरायली सेना, फलस्‍तीन के गाजा शहर में बरसाए बम

इजरायल और फलस्‍तीन के बीच हालात एक बार फिर से तनावपूर्ण हो गए हैं। इजरायल ने फलस्‍तीनी चरमपंथी गुट हमास के भड़काऊ गुब्‍बारे...
- Advertisement -

Latest Articles

हमास के ‘कॉन्‍डम बम’ हमले से भड़की इजरायली सेना, फलस्‍तीन के गाजा शहर में बरसाए बम

इजरायल और फलस्‍तीन के बीच हालात एक बार फिर से तनावपूर्ण हो गए हैं। इजरायल ने फलस्‍तीनी चरमपंथी गुट हमास के भड़काऊ गुब्‍बारे...

Jio फिर से बना नंबर 1, 4G डाउनलोड स्पीड में Airtel और Vodafone Idea को पछाड़ा

हाइलाइट्स:JIO ने फिर मारी बाजीAirtel और Vodafone Idea को दी करारी मात4G डाउनलोड स्पीड में पछाड़ानई दिल्ली। भारतीय बाजार की दिग्गज नेटवर्क प्रोवाइडर...